Friday 28 January 2011

हिन्दी के प्रति वैश्विक षडयंत्र तो नही ?

हिन्दी के प्रति वैश्विक षडयंत्र तो नही ?
बीबीसी हिन्दी रेडियो सेवा बंद की जा रही है , जानकर हतप्रभ हूं ... ! हिन्दी का तो दुनिया भर में विस्तार हो रहा है और बीबीसी हिन्दी के प्रसारण बंद करने की बात कर रहे हैं .. इस पर पुनर्विचार करने की जरूरत है , किसी भी तरह बीबीसी हिन्दी के प्रसारण जारी रखे . यदि रेडियो प्रसारण बंद किये ही जाते हैं तो बीबीसी टीवी पर हिन्दी चैनल शुरू करे .. . बीबीसी एक सर्विस मात्र नही है यह एक मिशन है सच के पक्ष में ..जिसे करोड़ो श्रोता जुरे हुये हैं . इस तरह अचानक प्रसारण बंद करने का एक पक्षीय निर्णय लिया जाना गलत है .जर्मन रेडियो डायचेवेली पहले ही हिन्दी प्रसारण बंद कर चुका है .. यह सब क्यो ..हिन्दी के दुनिया भर में बढ़ते प्रभाव के कारण कोई साजिश तो नही ?

Sunday 9 January 2011

विवेक रंजन श्रीवास्तव "विनम्र" को व्यंग लेखन हेतु प्रतिष्ठित कैलाश गौतम सम्मान घोषित इलाहाबाद , विगत दिवस विश्व हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान इलाहाबाद द्वारा वर्ष २०१० हेतु विभिन्न साहित्यिक विधाओ में लेखन हेतु सम्मान , अलंकरण घोषित किये गये . व्यंग विधा हेतु जबलपुर के विवेक रंजन श्रीवास्तव "विनम्र" को प्रतिष्ठित कैलाश गौतम सम्मान से सम्मानित करने की घोषणा की गई है . उक्त सम्मान १३ फरवरी २०११ को हिन्दुस्तानी एकेडेमी इलाहाबाद के सभागार में आयोजित राष्ट्रीय समारोह में अपरान्ह सत्र में प्रदान किया जावेगा . उल्लेकनीय है कि श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव को उनकी व्यंग कृति राम भरोसे हेतु पहले भी अभियान द्वारा दिव्य अलंकरण से सम्मानित किया जा चुका है . उनकी नई व्यंग "कृति कौआ कान ले गया " राष्ट्रीय स्तर पर चर्चित है .

विवेक रंजन श्रीवास्तव "विनम्र" को व्यंग लेखन हेतु प्रतिष्ठित कैलाश गौतम सम्मान घोषित

इलाहाबाद , विगत दिवस विश्व हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान इलाहाबाद द्वारा वर्ष २०१० हेतु विभिन्न साहित्यिक विधाओ में लेखन हेतु सम्मान , अलंकरण घोषित किये गये . व्यंग विधा हेतु जबलपुर के विवेक रंजन श्रीवास्तव "विनम्र" को प्रतिष्ठित कैलाश गौतम सम्मान से सम्मानित करने की घोषणा की गई है . उक्त सम्मान १३ फरवरी २०११ को हिन्दुस्तानी एकेडेमी इलाहाबाद के सभागार में आयोजित राष्ट्रीय समारोह में अपरान्ह सत्र में प्रदान किया जावेगा . उल्लेकनीय है कि श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव को उनकी व्यंग कृति राम भरोसे हेतु पहले भी अभियान द्वारा दिव्य अलंकरण से सम्मानित किया जा चुका है . उनकी नई व्यंग "कृति कौआ कान ले गया " राष्ट्रीय स्तर पर चर्चित है .