Saturday 4 August 2012

लव मैरिज या अरेंज्ड मैरिज ?


लव मैरिज या अरेंज्ड मैरिज ?


लव तो हो ही जाता है , दो युवाओ में .

पर शादी केवल लव ही तो नही है !

सक्सेजफुल शादी के लिये .

लव के साथ जरूरी होता है ,

कमिटमेंट भी . फेथ भी . म्युचुएल रिस्पेक्ट भी .

अब परिवार नहीं होते बहुत बड़े ,

भाई बहिन , माँ पिता से

जो प्रगाढ़ रिलेशन होते हैं ,लड़के या लड़की के ,

वे शादी के बाद भी बने रहें ,

इसलिये जरूरी होता है एडजसमेंट भी , शादी में.

मतलब अरेंज्ड लव मैरिज हो

या
अरेंज्ड मैरिज तब की जाये

जब एक दूसरे को समझने लगें पार्टनर्स

चैटिंग से , मीटिंग से और मोबाइल पर लम्बी लम्बी बातों से

मतलब शादी हो तब , जब हो जाये  लव !

No comments: