Tuesday, 19 November, 2019

पाठक मंच जरूरी

स्तम्भ  अपना प्रदेश

 प्रदेश में मप्र संस्कृति परिषद साहित्य अकादमी के पाठक मंच पुनः सक्रिय करने जरूरी


उन्नीस सौ नब्बे के दशक में तत्कालीन  म प्र सरकार ने  युवाओ को साहित्य से जोड़ने के लिये मध्यप्रदेश साहित्य अकादमी के तत्वावधान में प्रदेश में पाठक मंच योजना का अभिनव प्रारंभ किया था ।

म. प्र. साहित्य अकादमी की प्रतिनिधि इकाई के रूप में व एक सृजनात्मक स्थानीय
संस्था के रूप में प्रदेश के विभिन्न अंचलो में मानसेवी साहित्य प्रेमियो के संयोजन में प्रदेश में जगह जगह पाठक मंच सक्रिय हैं.

अकादमी की पाठक मंच योजना देश में इस तरह की पहली अभिन्न योजना है . समकालीन , चर्चित व महत्वपूर्ण किताबो तथा महत्व पूर्ण पत्र पत्रिकाओ पर इन पाठक मंचो में चर्चा के माध्यम से पाठको तथा लेखको को वैचारिक अभिव्यक्ति का सुअवसर सुलभ होता है . पाठक मंच संयोजको का एक वार्षिक सम्मेलन भी आयोजित किया जाता है .

पाठक मंच की यह योजना पिछली सरकार के समय भी पूरी सक्रियता से जारी रही ।
वर्तमान युग इलेक्ट्रानिक संसाधनो से भरा हुआ है , ऐसे समय में पठनीयता का स्वाभाविक अभाव है . किन्तु पाठक मंच पुस्तक संस्कृति को बचाये रखने का बड़ा काम कर रहे थे ।

प्रदेश की वैचारिक साहित्यिक सांस्कृतिक अस्मिता का परिदृश्य बनाये रखने व नव लेखन को सकारात्मक दिशा देने के लिए पाठक मंच आवश्यक हैं ।

विगत एक वर्ष से नई सरकार में पाठक मंच की यह सर्वथा महत्वपूर्ण योजना ठप्प है । अतः  साहित्य के व्यापक हित में अविलंब प्रदेश के पाठक मंचो को पुनः सक्रिय करने की जरूरत है ।


विवेक रंजन श्रीवास्तव

संयोजक , पाठक मंच जबलपुर

 ए 1, शिला कुंज रामपुर जबलपुर 482008

मो 7000375798

No comments: